Malhotra Iron Works, Alwar

महाविद्यालय का संक्षिप्त परिचय

सरस्वती श्रुति महती महियताम वयं राष्ट्रे जाग्रयाम:
जयतु संस्कृतम ।     जयतु भारतम् ।

संस्कृत एक जीवन्त भाषा है। यह भारत की आत्मा है । संस्कृत हमारे प्राचीन इतिहास को वर्तमान से जोडती है तथा भविष्य का मार्ग प्रशस्त करती है । विज्ञान से पहले ज्ञान का प्रादुर्भाव हुआ और यह ज्ञान संस्कृत भाषा मे ही निहित है ।

राजस्थान के सिंह द्वार, महाराजा भर्तृहरि की पावन तपोस्थली, अरावली अंचल मे बसी मतस्य नगरी अलवर में संस्कृत भाषा का  पोषण एवं उन्नयन हेतु  निदेशालय संस्कृत शिक्षा विभाग राजस्थान जयपुर के अधीन राजकीय शास्त्री संस्कृत महाविद्यालय  अलवर वर्ष 1992से शास्त्री स्तर पर संचालित है| जिसमे बालक एवं बालिकाओ को सह शिक्षा दी जाती है |  जिसकी मान्यता बी.ए डिग्री के समकक्ष है| 

 महाविद्यालय यू.जी.सी. की 2F एफ तथा 12 बी की सूची में शामिल है | यह  महाविद्यालय जयपुर रोड पर घोरा फेर चौराहा के समीप स्थित है जो की मुख्य बस स्टैंड से लगभग 2 किलोमीटर की दूरी पर है I पूर्व में रजवाड़े के समय में यह महाविद्यालय आचार्य स्तर का भी रहा है |

महाविद्यालय में प्रवेश की पात्रता

संस्कृत ऐच्छिक विषय से कक्षा 12वी अथवा वरिष्ठोपाध्याय कक्षा उत्तीर्ण विद्यार्थी इस महाविद्यालय की कक्षा शास्त्री प्रथम वर्ष में प्रवेश के पात्र है | आरक्षण कोटा राजस्थान सरकार के नियमानुसार निर्धारित है

संचालित (मान्यता प्राप्त) विषय

वर्ग-1 संस्कृत वांग्मय अनिवार्य विषय वर्ग-२ साहित्य , व्याकरण, धर्म शास्त्र  वर्ग-३ हिंदी, अंग्रेजी (आधुनिक विषय) अनिवार्य विषय : हिंदी , अंग्रेजी ( प्रथम वर्ष हेतु )

सम्बद्ध विश्वविद्यालय :- जगद्गुरु रामानंदाचार्य राजस्थान संस्कृत विश्वविद्यालय जयपुर

पुस्तकालय की स्थिति

महाविद्यालय में संस्कृत साहित्य एवं व्याकरण के अलावा अन्य उपयोगी संदर्भ ग्रन्थ उपलब्ध है | जिनकी वर्तमान में कुल संख्या 5291 है|

छात्रसंघ अध्यक्ष:-

विश्व प्रताप सिंह नरुका शास्त्री तृतीय वर्ष 

संसाधन

महाविद्यालय भवन में कुल १८ कमरे हैं| बालक एवं बालिकाओ के लिए पृथक पृथक शोचालय की व्यवस्था है | भवन में बिजली, पानी की समुचित व्यवस्था है | विद्यार्थियों को अध्यापन के साथ साथ केरियर काउंसलिंग के माध्यम से रोजगार परक शिक्षा भी दी जाती है | इसके अलावा संस्था में विद्यार्थियों को कंप्यूटर का ज्ञान भी कराया जाता है| महाविद्यालय में उपलब्ध खेल मैदान में बालीबाल खो-खो बेडमिन्टन कबड्डी आदि खेल खेलने की सुविधा है | इन खेलों से सम्बन्धित आवश्यक सामग्री सहित क्रिकेट खेल की समस्त सामग्री की समुचित व्यवस्था है |  छात्र छात्राओ हेतु पर्याप्त मात्र में फर्नीचर आदि उपलब्ध है